सामग्री पर जाएँ

यहूदी धर्म

विकिसूक्ति से

यहूदी धर्म (Judaism ; हिब्रू : יַהֲדוּת) विश्व का एक प्राचीन धर्म है जो हिब्रू बाइबल (तनख़) से उत्पन्न हुआ। तालमुद आदि बाद के ग्रन्थों में इसका विस्तार हुआ।

उद्धरण[सम्पादन]

  • मैं कहना चाहता हूँ कि यहूदियों ने लोगों को सुसभ्य बनाने में किसी भी अन्य राष्ट्र की अपेक्षा अधिक योगदान दिया है। -- जॉन एडम्स
  • यहुदियों में मद्यपान की आदत नहीं होती जो कि घरेलू कलह और दुराचार की जड़ है। -- हर्मन एडलर (Hermann Adler)
  • यहूदियों की इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका रही है। वे मुख्यतः ऐतिहासिक लोग हैं और उनकी नियति ईश्वरीय आदेशों की अविनाशिता को दर्शाती है। -- Nikolai Berdyaev
  • ये सही है कि मैं अपने-आप से घृणा करता हूँ, लेकिन इसका मेरे यहूदी होने से कोई लेना-देना नहीं है। -- लैरी डेविड (Larry David), जब उन्हें 'स्वयं से घृणा करने वाला यहूदी' कहा गया।
  • जर्मनी में यहूदियों के साथ जो लड़ाई हुई, आधुनिक काल में उससे बुरी घटना कोई नहीं है। यह सभ्यता पर आक्रमण था जिसकी तुलना केवल स्पेन के इन्क्विजिशन तथा अफ्रीका के गुलामों के व्यापार से की जा सकती है। -- W. E. B. Du Bois ( सन १९३६)
  • विरासत से मैं यहूदी हूँ, नागरिकता से स्विस हूँ, और बनावट से एक मानव हूँ। -- अलबर्ट आइन्स्टाइन, Alfred Kneser को लिखे एक पत्र में (7 जून 1918)
  • मैं न तो जर्मनी का नागरिक हूँ और न ही ऐसी किसी चीज में विश्वास करता हूँ जिसे 'यहूदी धर्म' कहा जा सकता है। लेकिन में यहूदी हूँ और मुझे इस बात की खुशी है कि मैं यहूदी हूँ, यद्यपि मैं नहीं मानता कि मैने यहूदी धर्म को चुना है। -- अल्बर्ट आइन्स्टाइन, ३ अप्रैल १९२० को 'जर्मन एशोसिएशन ओफ़ जर्मन सिटिजेन्स ऑफ जिविश फेथ' को लिखे एक पत्र में।
  • मेरे विचार से यहूदी आन्दोलन को "राष्ट्रवादी" कहना अनुचित है। -- अल्बर्ट आइन्स्टीन, १९४६ में
  • यहूदियों को कोई सार्वजनिक पद न दिया जाय। कोई ऐसा करता है तो उसे दण्ड दिया जायेगा। यहूदी पदाधिकारियों को इसाइयों से किसी भी प्रकार का व्यवहार न करने दिया जाय। -- The Canons of the Fourth Lateran Council, सन 1215, Canon 69
  • जीने की इच्छा का नाश नहीं किया जा सकता, विशेषकर यहूदियों में। ऐसा नहीं होता तो शताब्दियों तक की प्रताड़ना और हत्या ने इस जाति को बहुत पहले नष्ट कर दिया होता। -- एम्मा गोल्डमैन (Emma Goldman), सन 1924 में।
  • यहूदियों को लेकर मुस्लिम जगत में जो चर्चा चल रही है, वह बेहद चौंकाने वाली है। इतना ही नहीं है कि वे होलोकॉस्ट हुआ, ऐसा मानने से इनकार है बल्कि वे कहते हैं कि यदि मौका दिया गया तो हम वास्तविक रूप में हॉलोकास्ट करेंगे। -- Sam Harris, "Why Don't I Criticize Israel?" (27 जुलाई 2014)
  • यहूदियों का (संसार भर में) बिखरना एक वरदान भी था और एक अभिशाप भी। उनका राष्ट्र विघटित हो गया, लेकिन उनकी संस्कृति अत्यन्त समृद्ध हो गयी। -- Samuel Karlinsky, in The Eight Day — The Hidden History of the Jewish Contribution to Civilzation (1994)
  • पिछले ४५ वर्ष में धरती के पटल पर यहूदियों की स्थिति पूरी तरह से बदल गयी है। -- Melanie Kaye/Kantrowitz "To Be a Radical Jew in the Late 20th Century" (1986)
  • हम यहूदी धर्म को केवल एक धर्म नहीं बल्कि एक एक सभ्यता मानते हैं। मेरा मानना है कि यहूदी होने के अनेकानेक रास्ते हैं। और उनमें से एक रास्ता है, गैर-मजहबी यहूदी होना। -- Amos Oz, 2012 में एक साक्षात्कार में
  • यहूदी वे हैं जो मूसा के विधान का पालन करते हैं; जिनका बतिस्मा नहीं हुआ है; और जो ईसा मसीह को नहीं मानते। -- Pius X, Catechism of St. Pius X, The Ninth Article of the Creed, The Communion of Saints, question 13
  • प्रथम सोवियत सरकार का ८०-८५ प्रतिशत यहूदी थे। -- ब्लादिमिर पुतिन, मॉस्को के यहूदी संग्रहालय पर बोलते हुए (13 जून 2013)
  • मैं यहूदी हूँ : क्या यहूदियों की आँखे नहीं होतीं? क्या यहूदियों के हाथ नहीं होते, अंग, इन्द्रियाँ, प्रेम, करुणा नहीं होती? क्या वे वही खाना नहीं खाते, उन्हीं हर्थियारों से घायल नहीं होते, उन्हीं रोगों से ग्रस्त नहीं होते, उन्हीं तरीकों से स्वस्थ नहीं होते, उसी सर्दी और गर्मी से ठण्डे और गरम नहीं होते जिससे ईसाई होते हैं? -- विलियम शेक्सपीयर, 'द मर्चेन्ट ऑफ वेनिस' में (इस्की रचना १५९० के दसक के अन्तिम वर्षों में हुई थी)
  • पूँजीवाद का जन्म धन को ऋण के रूप में देने से हुआ। धन को उधार देने में पूंजीवाद का मूल विचार निहित है। तलमूड के पन्नों को पलटें और आप पाएंगे कि यहूदियों ने पैसे उधार देने की एक कला विकसित की थी। उन्हें शुरू से ही सिखाया जाता था कि वे पैसे पर कब्ज़ा करने में अपनी मुख्य ख़ुशी तलाशें। उन्होंने पैसे में छिपे सभी रहस्यों को जान लिया। वे धन के स्वामी और विश्व के स्वामी बन गये। -- Werner Sombart, Jews & Modern Capitalism, 1913.
  • यह कोई संयोग नहीं है कि यहूदी धर्म ने मार्क्सवाद को जन्म दिया, और यह भी कोई संयोग नहीं है कि यहूदियों ने आसानी से मार्क्सवाद अपना लिया; यह सब यहूदी धर्म और यहूदियों की प्रगति के बिल्कुल अनुरूप था। -- हैरी वॉटन, A Program For The Jews And An Answer To All Anti Semites; एस्टोरिया प्रेस, 1939. पृष्ठ. 148