वल्लभभाई पटेल

विकिसूक्ति से
Jump to navigation Jump to search

सरदार वल्लभ भाई पटेल (गुजराती: સરદાર વલ્લભભાઈ પટેલ ; 31 अक्टूबर 1875 - 15 दिसंबर 1950) एक भारतीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे एवं भारत की आजादी के बाद गणराज्य के प्रथम गृह मंत्री और उप-प्रधानमंत्री बने।

उक्तियाँ[सम्पादन]

  • इस मिट्टी में कुछ अनूठा है, जो कई बाधाओं के बावजूद हमेशा महान आत्माओं का निवास रहा है।
  • आपकी अच्छाई आपके मार्ग में बाधक है, इसलिए अपनी आँखों को क्रोध से लाल होने दीजिये, और अन्याय का मजबूत हाथों से सामना कीजिये।
  • एकता के बिना जनशक्ति शक्ति नहीं है जबतक उसे ठीक तरह से सामंजस्य में ना लाया जाए और एकजुट ना किया जाए, और तब यह आध्यात्मिक शक्ति बन जाती है।
  • बेशक कर्म पूजा है किन्तु हास्य जीवन है।जो कोई भी अपना जीवन बहुत गंभीरता से लेता है उसे एक तुच्छ जीवन के लिए तैयार रहना चाहिए। जो कोई भी सुख और दुःख का समान रूप से स्वागत करता है वास्तव में वही सबसे अच्छी तरह से जीता है।
  • चर्चिल से कहो कि भारत को बचाने से पहले इंग्लैण्ड को बचाए।
  • शक्ति के अभाव में विश्वास किसी काम का नहीं है। विश्वास और शक्ति, दोनों किसी महान काम को करने के लिए अनिवार्य हैं।

बाहरी कडियाँ[सम्पादन]

w
विकिपीडिया पर संबंधित पृष्ठ :