मुकदमा

विकिसूक्ति से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
  • मुकदमें में कभी भी किसी की जीत नहीं होती, केवल वकील जीतते हैं। -- Robert A. Heinlein, The Door Into Summer (1957), Chapter 2.
  • ईश्वर को अपना वकील बनाने वाला, अपना मुकदमा मुफ्त में जीतता है।

इन्हें भी देखें[सम्पादन]