देशभक्ति

विकिसूक्ति से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
  • देश के प्रति निष्ठा सभी निष्ठाओं से पहले आती है। और यह पूर्ण निष्ठा है क्योंकि इसमें कोई प्रतीक्षा नहीं कर सकता कि बदले में उसे क्या मिलता है। -- लाल बहादुर शाश्त्री
  • तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा ! -- सुभाष चन्द्र बोस
  • ये हमारा कर्तव्य है कि हम अपनी स्वतंत्रता का मोल अपने खून से चुकाएं। हमें अपने बलिदान और परिश्रम से जो आज़ादी मिले, हमारे अन्दर उसकी रक्षा करने की ताकत होनी चाहिए। -- सुभाष चन्द्र बोस
  • जब तक गलती करने की स्वतंत्रता ना हो तब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नहीं है। -- महात्मा गाँधी
  • यह हर एक नागरिक की जिम्मेदारी है कि वह यह अनुभव करे की उसका देश स्वतंत्र है और उसकी स्वतंत्रता की रक्षा करना उसका कर्तव्य है। हर एक भारतीय को अब यह भूल जाना चाहिए कि वह एक राजपूत है, एक सिख या जाट है। उसे यह याद होना चाहिए कि वह एक भारतीय है और उसे इस देश में हर अधिकार है पर कुछ जिम्मेदारियां भी हैं। -- वल्लभभाई पटेल
  • सभी महान आन्दोलन लोक्रप्रिय आन्दोलन होते हैं। वे मानवीय जूनून और भावनाओं का विस्फोट होते हैं, जो कि विनाश की देवी या लोगों के बीच बोले गए शब्दों की मशाल के द्वारा क्रियान्वित किये जाते हैं। -- अडोल्फ़ हिटलर
  • इस मिट्टी में कुछ अनूठा है, जो कई बाधाओं के बावजूद हमेशा महान आत्माओं का निवास रहा है। -- वल्लभभाई पटेल
  • ज़िन्दगी तो अपने दम पर ही जी जाती है; दूसरो के कन्धों पर तो सिर्फ जनाजे उठाये जाते हैं। -- भगत सिंह
  • हम अपने देश के लिए आज़ादी चाहते हैं, पर दूसरों का शोषण कर के नहीं, ना ही दूसरे देशों को नीचा दिखा कर….मैं अपने देश की आजादी ऐसे चाहता हूँ कि अन्य देश मेरे आजाद देश से कुछ सीख सकें, और मेरे देश के संसाधन मानवता के लाभ के लिए प्रयोग हो सकें। -- लाल बहादुर शाश्त्री
  • देशभक्ति मूल रूप से एक धारणा है कि कोई देश इसलिए दुनिया में सबसे अच्छा है क्योंकि आप वहां पैदा हुए थे। -- जार्ज बर्नार्ड शा
  • राष्ट्रवाद एक बचकानी बीमारी है। यह मानवजाति का खसरा है। -- अल्बर्ट आइंस्टीन
  • अगर हम कभी ये भूल जाते हैं कि हम ईश्वर के अधीन एक देश हैं तब हम एक बर्वाद देश बन जायेंगे। -- रोनाल्ड रीगन
  • सभी युद्ध गृहयुद्ध हैं क्योंकि सभी इंसान आपस में भाई-बंधु हैं … हर एक व्यक्ति अपनी मातृभूमि से कहीं ज्यादा मानवजाति का करजदार है। -- फ्रांकोइस फेनेलॉन
  • निष्ठुर आलोचना और स्वतंत्र विचार ये क्रांतिकारी सोच के दो अहम् लक्षण हैं। -- भगत सिंह
  • किसी भी कीमत पर बल का प्रयोग ना करना काल्पनिक आदर्श है और नया आन्दोलन जो देश में शुरू हुआ है और जिसके आरम्भ की हम चेतावनी दे चुके हैं वो गुरु गोबिंद सिंह और शिवाजी, कमाल पाशा और राजा खान , वाशिंगटन और गैरीबाल्डी , लाफायेतटे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है। -- भगत सिंह
  • देशप्रेम आमतौर पे किसी ख़ास वर्ग के प्रति घृणा से मजबूत होता है और अंतर्राष्ट्रीयता से हमेशा ही मजबूत होती है। -- जॉर्ज ऑरवेल
  • देशभक्त का कर्तव्य है कि वो अपने देश की रक्षा उसकी सरकार से करे। -- थॉमस पेन
  • आम तौर पर लोग चीजें जैसी हैं उसके आदि हो जाते हैं और बदलाव के विचार से ही कांपने लगते हैं। हमें इसी निष्क्रियता की भावना को क्रांतिकारी भावना से बदलने की ज़रुरत है। -- भगत सिंह
  • धर्म और व्यावहारिक जीवन अलग नहीं हैं। सन्यास लेना जीवन का परित्याग करना नहीं है। असली भावना सिर्फ अपने लिए काम करने की बजाये देश को अपना परिवार बना मिलजुल कर काम करना है। इसके बाद का कदम मानवता की सेवा करना है और अगला कदम ईश्वर की सेवा करना है। -- बाल गंगाधर तिलक
  • हर देश खुद को और देशों से बेहतर समझता है। इसी से देशभक्ति आती है- और युद्ध भी। -- डेल कार्नेगी
  • क्या कुछ इससे भी अधिक मूर्खतापूर्ण हो सकता है कि किसी व्यक्ति को मुझे मारने का अधिकार सिर्फ इसलिए है। क्योंकि वो नदी के उस पार रहता है और उसके शासक का मेरे शासक से झगड़ा हो गया है, जबकि मैंने उसके साथ कोई झगड़ा नहीं किया है ? -- ब्लेज पास्कल
  • सच्ची देशभक्ति कहीं और से अधिक अपने ही देश में हो रहे अन्याय से घृणा करती है। -- क्लेरेंस डैरो
  • आपको देशभक्ति में इतना अँधा नहीं हो जाना चाहिए कि आप सच्चाई का सामना न कर सकें। जो गलत है वो गलत है, फिर चाहे जो इसे कहे। -- मैलकम एक्स
  • देशभक्त : वह व्यक्ति जो सबसे तेज चिल्ला सके बिना ये जाने कि वो किस लिए चिल्ला रहा है। -- मार्क ट्वेन
  • देशभक्ति किसी दुष्ट व्यक्ति की आखिरी शरण है। -- सैमुएल जॉनसन
  • एक सैनिक के रूप में आपको हमेशा तीन आदर्शों को संजोना और उन पर जीना होगा : सच्चाई, कर्तव्य और बलिदान.जो सिपाही हमेशा अपने देश के प्रति वफादार रहता है, जो हमेशा अपना जीवन बलिदान करने को तैयार रहता है, वो अजेय है. अगर तुम भी अजेय बनना चाहते हो तो इन तीन आदर्शों को अपने ह्रदय में समाहित कर लो। -- सुभाष चन्द्र बोस
  • आज हमारे अन्दर बस एक ही इच्छा होनी चाहिए, मरने की इच्छा ताकि भारत जी सके! एक शहीद की मौत मरने की इच्छा ताकि स्वतंत्रता का मार्ग शहीदों के खून से प्रशश्त हो सके। -- सुभाष चन्द्र बोस
  • देशप्रेमी हमेशा अपने देश के लिए मरने की बात करते हैं पर कभी अपने देश के लिए मारने की बात नहीं करते। -- बरट्रैंड रस्सेल
  • सबसे बड़ी देशभक्ति अपने देश को ये बताना है कि कब वो नीचतापपूर्ण, मूर्खतापूर्ण और, दोषपूर्ण व्यवहार कर रही है। -- जूलियन बार्न्स
  • अच्छा आदमी और अच्छा नागरिक होना हमेशा एक जैसा नहीं होता। -- अरस्तु
  • देशभक्ति भ्रष्टाचारियों का गुण है। -- ऑस्कर वाइल्ड
  • कोई भी झंडा इतना बड़ा नहीं है कि वो निर्दोषों की हत्या की शर्मिंदगी को ढक सके। -- हॉवर्ड जिन
  • कभी-कभार आजादी के पेड़ को देशभक्तों और तानाशाहों के खून से सींचा जाना चाहिए। -- थॉमस जेफ़र्सन
  • पहले वो लिखा करते थे कि अपने देश के लिए मरना अच्छा और सही है । लेकिन आज कल के युद्ध में , आपके मरने में ना कुछ अच्छा है न सही है । आप बिना किसी ख़ास वजह के कुत्ते की तरह मारे जायेंगे । -- अर्नेस्ट हेमिंग्वे
  • देश के प्रति वफादारी हमेशा , सरकार के प्रति वफादारी, जब वो इसकी हकदार हो । -- मार्क ट्वेन
  • प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। बिना स्वशासन के न औद्योगिक विकास संभव है, न ही राष्ट्र के लिए शैक्षिक योजनाओं की कोई उपयोगिता है… देश की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्न करना सामाजिक सुधारों से अधिक महत्वपूर्ण है। -- बाल गंगाधर तिलक
  • एक देश की ताकत अंततः इस बात में निहित है कि वो खुद क्या कर सकता है, इसमें नहीं कि वो औरों से क्या उधार ले सकता है। -- इंदिरा गाँधी
  • आज़ादी की रक्षा केवल सैनिकों का काम नही है । पूरे देश को मजबूत होना होगा। -- लाल बहादुर शाश्त्री