कला

विकिसूक्ति से
Jump to navigation Jump to search

कला[सम्पादन]

  • कला विचार को मूर्ति में परिवर्तित कर देती है।
  • अभिव्यक्ति की कुशल शक्ति ही तो कला है। -- मैथिलीसरण गुप्त
  • ऊँची कला कोशिश करने पर भी अपने को नीति और उद्देशय के संर्घष से बचा नहीं सकती, क्योंकि नीति और लक्ष्य जीवन के प्रहरी है और कला जीवन का अनुकरण किये बिना जी नही सकती। -- रामधारीसिंह ‘दिनकर’
  • एक अच्छा कलाकार वही पेंट करना चाहता है ,जो वह होता है। -- जैक्सन पोल्लोक
  • एक अच्छा चित्रकार हमेशा वो पेंट करता है जो वो है। -- जैक्सन पोल्लोक
  • एक इंसान दिमाग से पेंटिंग करता है न कि हाथों से। -- माइकलैंजिलो
  • एक कला कार सचमुच कभी अपना काम ख़तम नहीं करता, वो बस उसको छोड़ देता है। -- पॉल वैलेरी
  • एक कलाकार को उसकी मेहनत के लिए पैसे नहीं मिलते बल्कि उसकी दूरदृष्टि के लिए मिलते हैं। -- जेम्स विस्लर
  • एक कलाकार सचमुच कभी अपना काम खत्म नहीं करता, वो बस उसको छोड़ देता हैं। -- पॉल वैलरी
  • एक कलाकृति एक अद्वितीय स्वभाव का अद्वितीय परिणाम है। -- ऑस्कार वाइल्ड
  • एक चित्र बिना शब्दों के लिखित कविता के समान हैं। -- होरेस
  • एक चित्र हज़ार शब्दों के बराबर होता है। -- नेपोलियन बोनापार्ट
  • एक महान कलाकार हमेशा अपने समय से आगे या पीछे होता है। -- जॉर्ज एडवर्ड मूर
  • एक मूर्तिकार चीजों को आकार देने में रुचि रखता है, एक कवी शब्दों में और एक संगीतकार ध्वनि में। -- हेनरी मूर
  • एक लेखक को अपने आँखों से लिखना चाहिए और एक चित्रकार को अपने कानो से चित्रकारी करनी चाहिए। -- गैरत्रुद स्टेन
  • एक सच्चा कलाकार भी हमेशा कला का निर्माण नहीं करता। -- ’Connor कैरोल ओ’ कौन्कार
  • ऐसे कलाकार जो हर चीज में पूर्णता चाहते हैं, वो इसे किसी भी चीज में नही पा पाते। -- गौसटैव फ्लौबेर्ट
  • कभी कोई कला ख़त्म नहीं होती है बस उसे त्याग दिया करते है। -- अज्ञात
  • कल तो सत्य का केवल श्रृंगार हैं। -- हरिभाऊ उपाध्याय
  • कला अति सूक्ष्म और कोमल है, अतः अपनी गति के साथ यह मस्तिष्क को भी कोमल और सूक्ष्म बना देती हैं। -- अरविन्द
  • कला अत्यंत कठिन है और उसका पुरस्कार है नश्वर। -- शिलर
  • कला एक प्रकार का एक नशा है, जिससे जीवन की कठोरताओं से विश्राम मिलता है।- फ्रायड
  • कला कभी भी बाहरी रूप-रंग को प्रदर्षित नहीं करता बल्कि वह आंतरिक को दर्शाने में ज्यादा महत्व देता है। -- अरस्तु
  • कला कला के लिए। --विक्टर फजिन
  • कला का अंतिम और सर्वोच्च ध्येय सौन्दर्य हैं। -- गेटे
  • कला का कार्य किसी विचार को अतिरंजित करना है। --आन्द्रे जीद
  • कला का शत्रु अज्ञान है। --बेन जानसन
  • कला का सत्य जीवन की परिधि में सौन्दर्य के माध्यम द्वारा व्यक्त अखण्ड सत्य है। --महादेवी वर्मा
  • कला की कसौटी सौन्दर्य है, जो सुंदर है वही कला हैं। -- अज्ञात
  • कला कुरूप चीजों को जन्म देती है जो समय के साथ खूबसूरत होती जाती हैं। वहीँ दूसरी तरफ, फैशन खूबसूरत चीजों को जन्म देता है जो समय के साथ कुरूप होती जाती हैं। -- जीन कोक्टे
  • कला के लिए आवश्यकता बुद्धि और हृदय की है, रूपये की कदापि नहीं। -- महात्मा गांधी
  • कला के साथ हमारे जीवन का घनिष्ठ सम्बन्ध है। मानव-जीवन से पृथक कर देने पर कला का महत्व नहीं रहता। -- हितोपदेश
  • कला केवल उपकरण मात्र है, कला जीवन के लिए और उसकी पूर्ति में ही है। --यशपाला
  • कला कोई चीज नहीं ,बल्कि एक तरीका होता है। -- ऐल्बर्ट हब्बार्ड
  • कला कोई वस्तु नहीं ; यह एक तरीका है। -- ऐल्बर्ट हब्बार्ड
  • कला तो ईश्वर और कलाकार की संयुक्त कृति है और कलाकार जितना कम काम करे, उतना ही अधिक अच्छा। --आंद्र जीद
  • कला प्रकृति की सहायता करती है और अनुभव कला की। --टामस फुलर
  • कला में ही इंसान स्वयं को उजागर करता है। -- रबिन्द्रनाथ टैगोर
  • कला या तो साहित्यिक चोरी है या फिर एक क्रांति। -- पॉल गौगइन
  • कला विचार को मूर्ति रूप में परिणित करती हैं। -- एमर्सन
  • कला सम्पूर्णता की ओर पाने का प्रयास है, व्यक्ति की अपने को सिद्ध प्रमाणित करने की चेष्टा है। --अज्ञेय
  • कला सामाजिक अनुपयोगिता की अनुभूति के विरूद्ध अपने को प्रमाणित करने का प्रयत्न-अपर्याप्तता के विरूद्ध विद्रोह है। --अज्ञेय
  • कला ही बिना घर छोड़े भाग जाने का एकमात्र तरीका है। -- त्वयला थार्प
  • कला-प्राण हे मनुज, सृष्टि यह ब्रह्म की कला। --सुमित्रानंदन पंत
  • कला, जहाँ तक सम्भव होता है, प्रकृति का अनुकरण करती है, उसी प्रकार जिस प्रकार एक शिष्य अपने गुरू का अनुकरण करता हैं। अतः तुम्हारी कला ईश्वर की अनुकृति होनी चाहिए। -- दांते
  • कला, जीवन की विविधता समेटती हुई आगे बढ़ती है, अतः सम्पूर्ण जीवन को गला-पिघलाकर तर्क-सूत्र में कर लेना उसका लक्ष्य नहीं हो सकता। --महादेवी वर्मा
  • कलाकार आपने काम से जाना जाता है। -- जीन डी ला फोंटेन
  • कलाकार प्रकृति का प्रेमी है अतः वह उसका दास भी है और स्वामी भी। -- रवीन्द्रनाथ ठाकुर
  • कवि और चित्रकार में भेद है। कवि अपने स्वर में और चित्रकार अपनी रेखा में जीवन के तत्व और सौंदर्य का रंग भरता है। -- डा रामकुमार वर्मा
  • कविता का बाना पहन कर सत्य और भी चमक उठता है। -- अज्ञात
  • कविता गाकर रिझाने के लिए नहीं समझ कर खो जाने के लिए है। -- रामधारी सिंह दिनकर
  • कविता वह सुरंग है जिसमें से गुजर कर मनुष्य एक विश्व को छोड़ कर दूसरे विश्व में प्रवेश करता है। -- रामधारी सिंह दिनकर
  • काम से कलाकार जाना जाता है। -- जीन डी ला फोंटेन
  • खुद को गलतियाँ करने देना रचनात्मकता। ये जानना कि कौन सी गलतियों को रखना है ; कला है। -- स्कॉट एडम्स
  • जब लगन और प्रवीणता परस्पर मिलकर कार्य करें तो एक अति उत्तम कला की अपेक्षा करों। -- रस्किन
  • जीवन की सबसे बड़ी कला तपस्या है। -- महात्मा गांधी
  • जो आँख हर आँख में अपने ही प्यार को देखती है, वह कला के पैमान के कारागार में कैसे बंद हो सकती है? -- सरदार पूर्ण सिंह
  • जो कला आत्मा को आत्म-दर्शन करने की शिक्षा नहीं देती, वह कला ही नहीं हैं। -- महात्मा गांधी
  • ज्ञानी हम सब है, लोगों में फर्क ज्ञान का नहीं, बल्कि कला का हैं। -- एमर्सन
  • तस्वीर एक ऐसी कविता होती है , जिसके पास शब्द नहीं होते है। -- होरेस
  • दुनिया भर की सभी कलायें प्रकृति की ही नकल हैं। --लुसिअस अन्निअस सेनिसा
  • प्रेम के समान ही कला में भी मूल प्रवत्ति ही पर्याय होती है। --अनातोले फ्रांस
  • फाइन आर्ट वो है जिसमे व्यक्ति का हाथ, दिमाग और दिल एक साथ काम करते हैं। -- जॉन रस्किन
  • महान कला की शुरुआत वहां होती है जहाँ प्रकृति का अंत होता है। -- मार्क चैगैल
  • महान कलाकार लोग हमेशा या तो समय से पहले या फिर समय से पीछे होता है। -- जॉर्ज एडवर्ड मूर
  • मानव-संयुक्त प्रकृति का नाम ही कला हैं। -- बेकन
  • मेरे पास दो रोटियां हों और पास में फूल बिकने आयें तो मैं एक रोटी बेचकर फूल खरीदना पसंद करूंगा। पेट खाली रखकर भी यदि कला-दृष्टि को सींचने का अवसर हाथ लगता होगा तो मैं उसे गंवाऊगा नहीं।- शेख सादी
  • मैं चीजों को पेंट नहीं करता। मैं बस उनके बीच के अंतर को पेंट करता हूँ। -- हेनरी मतिस्से
  • मैं रोचक नहीं होना चाहता, मैं अच्छा होना चाहता हूँ। -- लुड मिस वें डर रोहे
  • मैंने पाया है कि जो चीजें मैं रंगों और आक्र्तियों के माध्यम से कह सकता हूँ वो और किसी तरह से नहीं कह सकता।
  • रंग में वह जादू है जो रंगने वाले, भीगने वाले और देखने वाले तीनों के मन को विभोर कर देता है। -- मुक्ता
  • रचनात्म अभिव्यक्तियाँ नियंत्रित मनोवेगों के द्वारा अपना परिपूर्ण स्वरूप प्राप्त करती है। --रवीन्द्रनाथ ठाकुर
  • वह कला ही क्या जो कर्तव्य को लंगड़ा कर दे। --वृन्दावनलाल वर्मा
  • विज्ञापन बीसवीं सदी की केव आर्ट हैं। -- मार्शल मैकलुहान
  • व्यक्ति अपने दिमाग से पेंट करता है, अपने हाथों से नहीं। -- माइकलैंजिलो
  • संगीत और कला की उपासना करो और भावना के धर्म को उन्नत करो। -- राधाकृष्णन
  • सच्ची कला ईश्वर की भक्तिपूर्ण अनुकरण हैं। -- अज्ञात
  • सच्ची कला सौन्दर्य को जीना है। जीवन में कला सुन्दर सत्य है। कला का जीवन सच्चा सौन्दर्य है। सच्चा जीवन ही सुन्दर कला है। --शिलर
  • सबसे महान कलाकार वह है जो अपने जीवन को ही कला का विषय बनाये। -- थोरो
  • सभी सच्चे कलाकार शुरुवात में नौसिखिया ही होते है। -- रल्प वाल्डो एमर्सन
  • समाज में गीतवाद्य, नाट्य-नृत्य का भी महत्पूर्ण स्थान है, ये बड़ी मनोहर और उपयोगी कलाएँ है। पर हैं तभी, जब इनके साथ संस्कृति का निवास-स्थान पवित्र-संस्कृत अन्तः करण हो। केवल ‘कला’ तो ‘काल’ बन जाती है। --हनुमान प्रसाद पोद्दार
  • साहित्य, संगीत और कला से विहीन पुरुष पूंछ और सींग से रहित साक्षात् पशु है। --भृर्तहरि
  • हर एक निर्माता अपनी अंतर्दृष्टि और परम अभिव्यक्ति के बीच एक अंतर होने की पीड़ा अनुभव करता है। -- आइजैक बैशेविस सिंगर

बाहरी कडियाँ[सम्पादन]