अल्बर्ट आइंस्टीन

विकिसूक्ति से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
ऐल्बर्ट आइनस्टाइन, 1947

अल्बर्ट आइंस्टीन (1879 -- 1955) एक महान वैज्ञानिक थे। वे भौतिक विज्ञान में अपने अमूल्य योगदान के लिए जाए जाते हैं। उन्होने सापेक्षिकता का सिद्धान्त दिया था। उनके द्वारा प्रस्तुत समीकरण, E=MC2 ऊर्जा और द्रव्यमान के बीच एक सम्बन्ध स्थापित करता है। यह दुनिया का सबसे प्रसिद्ध समीकरण है।

उक्तियाँ[सम्पादन]

  • समय एक भ्रम है।
  • कल्पना, ज्ञान से अधिक महत्वपूर्ण है।
  • बुद्धि का सही संकेत ज्ञान नहीं बल्कि कल्पनाशीलता है।
  • हर कोई जीनियस है। लेकिन अगर आप एक मछली को उसके पेड़ पे चढ़ने की काबिलियत के हिसाब से आंकेंगे तो वो पूरी उम्र यही सोच कर जियेगी कि वो मूर्ख है।
  • कोई भी समस्या चेतना के उसी स्तर पर रह कर नहीं हल की जा सकती है जिस पर वह उत्पन्न हुई है।
  • एक मेज, एक कुर्सी, एक कटोरा फल और एक वायलन; भला खुश रहने के लिए और क्या चाहिए?
  • इन्सान को यह देखना चाहिए कि क्या है, यह नहीं कि उसके अनुसार क्या होना चाहिए।
  • जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं कि उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की।
  • क्रोध मूर्खों की छाती में ही बसता है।
  • यदि मानव जाति को जीवित रखना है तो हमें बिलकुल नयी सोच की आवश्यकता होगी।
  • जो छोटी-छोटी बातों में सच को गंभीरता से नहीं लेता, उस पर बड़े मामलों में भी भरोसा नहीं किया जा सकता।
  • ईश्वर के सामने हम सभी एक बराबर ही बुद्धिमान हैं- और एक बराबर ही मूर्ख भी।
  • जब आप एक अच्छी लड़की के साथ बैठे हों तो एक घंटा एक सेकंड के सामान लगता है। जब आप धधकते अंगारे पर बैठे हों तो एक सेकंड एक घंटे के सामान लगता है। यही सापेक्षिकता है।
  • दो चीजें अनन्त हैं: एक ब्रह्माण्ड और दूसरा मनुष्य की मूर्खता; और मैं ब्रह्माण्ड के बारे में दृढ़ता से नहीं कह सकता।
  • दुनिया में जो चीज समझना सबसे कठिन है, वो है इनकम टैक्स।
  • कुछ ही ऐसे हैं जो अपनी आँखों से देखते हैं और अपने दिल से महसूस करते हैं।
  • सत्ता के प्रति विचारहीन सम्मान सत्य का सबसे बड़ा शत्रु है।
  • सफल व्यक्ति बनने का प्रयास मत कीजिए, बल्कि सिद्धान्तों पर चलने वाला व्यक्ति बनने का प्रयत्न कीजिए।
  • महान आत्माओं ने हमेशा मामूली सोच वाले लोगों के हिंसक विरोध का सामना किया है।
  • हर वो चीज जो गिनी जा सके मायने नहीं रखती, और हर वो चीज जो मायने रखती है वो गिनी नहीं जा सकती।
  • प्रकृति का गहराई से निरीक्षण करो, और तब तुम हर एक चीज बेहतर ढंग से समझ पाओगे।
  • सभी धर्म, कला और विज्ञान एक ही वृक्ष की शाखाएं हैं।
  • एक जहाज हमेशा किनारे पर सुरक्षित रहता है- लेकिन वो इसलिए नहीं बना होता है।
  • कोई भी बुद्धिमान मूर्ख चीजों को बड़ा और अधिक जटिल बना सकता है… विपरीत दिशा में जाने के लिए थोड़ी सी प्रतिभा और बहुत सारे साहस की ज़रुरत होती है।
  • कठिनाइयों के बीच ही अवसर छुपे होते हैं।
  • शिक्षा वो है जो स्कूल में सिखाई गयी चीजों को भूल जाने के बाद बचती है।
  • एक इंसान उस उस पूर्ण का एक भाग है जिसे हम ब्रहमांड कहते हैं।
  • महत्वपूर्ण बात यह है कि हम प्रश्न करना ना छोडें। जिज्ञासा के मौजूद होने के अपने खुद के कारण हैं।
  • एक प्रश्न जो मुझे कभी-कभार उलझा देता है: क्या मैं पागल हूँ या बाकी लोग पागल हैं?
  • ज़िन्दगी साइकिल चलाने की तरह है। अपना बैलेंस बनाए रखने के लिए आपको चलते रहना होता है।
  • मनुष्य और उसके भाग्य की चिंता सभी तकनीकी प्रयासों की मुख्य दिलचस्पी बननी चाहिए। अपने चित्रों और समीकरणों के बीच कभी भी ये मत भूलना।
  • ज़िन्दगी जीने के केवल दो ही तरीके हैं। एक ऐसे कि मानो कुछ भी चमत्कार ना हो। दूसरा ऐसे कि मानो सबकुछ एक चमत्कार हो।
  • जैसे ही आप सीखना बंद कर देते हैं, आप मरना शुरू कर देते हैं।
  • ऐसा नहीं है कि मैं बहुत स्मार्ट हूँ, बस मैं समस्याओं के साथ ज्यादा देर तक रहता हूँ।
  • केवल वो जो पूरे जी-जान से किसी कारण के लिए खुद को समर्पित कर देता है, वही एक सच्चा माहिर बन सकता है। इसी वजह से महारत व्यक्ति से उसका सब कुछ मांगती है।
  • आप कभी फेल नहीं होते, जब तक आप प्रयास करना नहीं छोड़ देते।
  • वह जो विस्मित होने के लिए ठहर नहीं सकता और मगन होकर आश्चर्य से खड़ा नहीं हो सकता, वह मरे हुए के समान है; उसकी आँखें बंद हैं।
  • मेरे पास कोई स्पेशल टैलेंट नहीं है। मैं बस बहुत अधिक जिज्ञासु हूँ।
  • नज़रिए की कमज़ोरी चरित्र की कमज़ोरी बन जाती है।
  • वो सत्य है जो अनुभव के परीक्षण पर खरा उतरता है।
  • ज्ञान का एक मात्र स्रोत अनुभव है।
  • कोई भी व्यक्ति जो बहुत अधिक पढ़ता है और अपने खुद के दिमाग का बहुत कम उपयोग करता है, वह सोचने की आलसी आदत में फंस जाता है
  • एक ऐसा समय आता है जब दिमाग ज्ञान के उच्च स्तर पर पहुँच जाता है लेकिन कभी साबित नहीं कर पाता कि वहां वह कैसे पहुंचा।
  • कल से सीखो, आज के लिए जियो, कल की आशा रखो। ज़रूरी बात ये है कि प्रश्न करना मत छोड़ो।
  • मैं महीनों और सालों तक सोचता रहता हूँ। निन्यानबे बार मेरा निष्कर्ष गलत होता है। सौवीं बार मैं सही हो जाता हूँ।
  • केवल दूसरों के लिए जिया जीवन ही सार्थक जीवन है।
  • दुनिया के बारे में सबसे ज्यादा जो बात समझ से बाहर है वो ये है कि इसे समझा जा सकता है।
  • शांति ताकत से नहीं कायम राखी जा सकती। ये केवल समझ से प्राप्त की जा सकती है।
  • सबसे सुंदर अनुभव जो हमें हो सकता है वो है रहस्यपूर्ण। यह मौलिक भावना है जो सच्ची कला और सच्चे विज्ञान के पालने में खड़ी है।
  • जीनियस और स्टुपिडीटी के बीच अंतर ये है कि जीनियस की अपनी सीमाएं हैं।
  • सूचना ज्ञान नहीं है।
  • रचनात्मक अभिव्यक्ति और ज्ञान में आनंद जगाना शिक्षक की सर्वोच्च कला है।
  • बिना गहन सोच के हम अपने रोज-मर्रा के जीवन से जानते हैं कि हम दूसरों के लिए अस्तित्व में हैं।
  • मानव समाज में जो कुछ भी मूल्यवान है वह व्यक्ति को मिले विकास के अवसर पर निर्भर करता है।
  • चाहे जितने भी प्रयोग कर लिए जाएं मुझे कभी सही नहीं ठहराया जा सकता है; बस एक प्रयोग मुझे गलत साबित कर सकता है।
  • अगर तुम इसे आसानी से समझा नहीं सकते, मतलब तुमने इसे अच्छी तरह से समझा नहीं हैं।
  • बुधिमत्ता का सही संकेत ज्ञान नहीं बल्कि कल्पना है।
  • पागलपन: एक ही चीज बार-बार करना और अलग रिजल्ट की उम्मीद करना
  • प्रशंसा के भ्रष्ट प्रभाव से बचने का एकमात्र तरीका काम करते रहना है।
  • शांत जीवन की नीरसता और एकांत रचनात्मक मन को उत्तेजित करता है।
  • शुद्ध गणित, अपने आप में, तार्किक विचारों की कविता है।
  • कभी-कभी लोग उन चीजों के लिए सबसे अधिक मूल्य चुकाते हैं जो मुफ्त में मिल जाती हैं।
  • भेड़ के किसी झुण्ड का बेदाग़ सदस्य बनने के लिए सबसे पहले आपको एक भेड़ होना चाहिए।
  • रचनात्मकता का रहस्य ये जानना है कि अपने स्रोतों को कैसे छिपाया जाए।
  • हम समस्याओं को उसी तरह की सोच इस्तेमाल कर के नहीं सुलझा सकते जिसका प्रयोग हमने समस्या पैदा करते वक़्त किया था।
  • मैं कभी भविष्य के बारे में नहीं सोचता। ये जल्द ही आ जाता है।
  • किसी इंसान का मूल्य इससे देखा जाना चाहिए कि वो क्या दे सकता है, इससे नहीं कि वो वो क्या ले पा रहा है।
  • जीनियस 1% टैलेंट है और 99% हार्ड वर्क।
  • ज्यादातर शिक्षक अपना समय ऐसे प्रश्न पूछने में बर्बाद करते हैं जिनका मकसद ये जानना होता है कि छात्र क्या नहीं जानता है, जबकि प्रश्न पूछने की सच्ची कला ये पता लगाना है कि छात्र क्या जानता है या क्या जानने में सक्षम है।
  • एक बार जब हम अपनी सीमाएं स्वीकार कर लेते हैं, तो हम उनके पार चले जाते हैं।
  • मैं शायद ही कभी शब्दों में सोचता हूँ। एक विचार आता है, और मैं बाद में उसे शब्दों में वयक्त करने का प्रयास कर सकता हूँ।
  • याददाश्त धोखेबाज है क्योंकि ये आज की घटनाओं से रंगी होती है।
  • जो छोटे-छोटे मामलों में सत्य को लेकर लापरवाह होता है उसपर गंभीर मामलों में भी यकीन नहीं किया जा सकता।
  • यदि आप चाहते हैं कि आपके बच्चे बुद्धिमान हों तो उन्हें परियों की कहानियां सुनाएं। यदि आप चाहते हैं कि वे और भी बुद्धिमान हों तो उन्हें और भी परियों की कहानियां सुनाएं।
  • तर्क आपको ए से जेड तक ले जायेगा; कल्पना आपको कहीं भी ले जायेगी।
  • मैं सभी से एक जैसे ही बात करता हूँ, चाहे वो कूड़ा उठाने वाला हो या विश्वविद्यालय का अध्यक्ष।
  • कभी भी उस चीज को याद मत करो जिसे तुम देख सकते हो।
  • एक चुतर व्यक्ति समस्या को हल कर देता है। एक बुद्धिमान व्यक्ति उससे बच जाता है।
  • धर्म के बिना विज्ञान लंगड़ा है, विज्ञान के बिना धर्म अंधा है।
  • वास्तविकता केवल एक भ्रम है, यद्यपि यह बहुत ही निरंतर है।
  • अगर हमें पता होता कि हम जो कर रहे हैं वो क्या है, तो इसे रिसर्च नहीं कहते, कहते क्या?
  • कोई भी मूर्ख जान सकता है। ज़रूरी है समझना।
  • बूढ़े आदमी की जवान आदमी को सलाह: ‘कभी भी अपनी पवित्र जिज्ञासा को मत खो ।’
  • अगर मैं एक भौतिक वैज्ञानिक नहीं होता, तो शायद मैं एक संगीतकार होता। मैं अक्सर संगीत में सोचता हूँ। मैं संगीत में सपने देखता हूँ। मैं अपना जीवन संगीत के रूप में देखता हूँ।
  • ये दुनिया, जैसा हमने इसे बनाया है, हमारी सोच का परिणाम है। इसे बिना हमारी सोच बदले नहीं बदला जा सकता है।
  • मुझे नहीं पता कि किन हथियारों से तृतीय विश्व युद्ध लड़ा जाएगा, लेकिन लेकिन चौथा विश्व युद्ध लाठी और पत्थरों से लड़ा जायेगा।
  • लोगों के प्रेम में पड़ने का कारण गुरुत्वाकर्षण नहीं है।
  • बुद्धिमत्ता की माप बदलने की क्षमता है।
  • रचनात्मकता बुद्धि की मौज-मस्ती है।
  • दुनिया जीने के लिए एक खतरनाक जगह है, उन लोगों की वजह से नहीं जो बुरे हैं, बल्कि उनकी वजह से जो इसके लिए कुछ करते नहीं हैं।
  • यदि ‘ए’ जीवन में सफल है, तो ‘ए’ बराबर है ‘एक्स’ धन ‘वाई’ धन ‘जेड’ के। काम ‘एक्स’ है, ‘वाई’ खेल; और ‘जेड’ अपना मुंह बंद करके रहना है।
  • हर एक चीज जितना संभव हो उतनी सरल बनायीं जानी चाहिए। लेकिन उससे सरल नहीं।
  • अपने आप को खुश करने का सबसे अच्छा तरीका किसी और को खुश करना है।
  • जो सही है वो हमेशा प्रसिद्द नहीं होता और जो प्रसिद्द है वो हेमशा सही नहीं होता।
  • मुझे मैं जो हूँ उसे छोड़ने के लिए तैयार होना होगा ताकि मैं वो बन सकूँ जो मैं होऊंगा।
  • प्रेम कर्तव्य से बेहतर स्वामी है।
  • एक निराशावादी और सही होने के बजाय मैं एक आशावादी और मूर्ख होना चाहूँगा।
  • सच्चा प्यार चाहे जितना दुर्लभ हो, ये सच्ची दोस्ती से कम दुर्लभ है।
  • केवल वो जो बेतुके प्रयास करते हैं असम्भव प्राप्त कर सकते हैं।
  • आने वाली पीढियां मुश्किल से यकीन कर पाएंगी कि कभी मांस और रक्त से पूर्ण कोई ऐसा था जो इस धरती पर चला था।
  • आप एक साथ युद्ध रोकने और करने की तैयारी नहीं कर सकते।
  • अल्बर्ट आइन्स्टीन के कुछ और अनमोल विचार
  • एक सच्चा जीनियस स्वीकार करता है कि उसे कुछ नहीं पता है।
  • यदि लोग इसलिए अच्छे हैं क्योंकि उन्हें सजा का डर है और इनाम की आशा है, तो हम वास्तव में बड़े नीच हैं।
  • ब्लैक होल्स वो हैं जहाँ भगवान शून्य से विभाजित होता है।
  • हम सभी जानते हैं कि लाइट साउंड से अधिक तेज ट्रैवेल करती है। इसीलिए कुछ लोग बड़े ब्राइट लगते हैं जब तक कि आप उन्हें बोलते हुए नहीं सुन लेते।

बाहरी कडियाँ[सम्पादन]

कॉमन्स
कॉमन्स
w
w