एडोल्फ हिटलर

विकिसूक्ति से
(अडोल्फ़ हिटलर से पुनर्निर्देशित)
Jump to navigation Jump to search
एडोल्फ हिटलर

एडोल्फ हिटलर (२० अप्रैल १८८९ - ३० अप्रैल १९४५) एक प्रसिद्ध जर्मन राजनेता एवं तानाशाह थे। वे "राष्ट्रीय समाजवादी जर्मन कामगार पार्टी" (NSDAP) के नेता थे। इस पार्टी को प्राय: "नाजी पार्टी" के नाम से जाना जाता है। सन् १९३३ से सन् १९४५ तक वह जर्मनी का शासक रहे।

उक्तियाँ[सम्पादन]

  • सभी प्रचार लोकप्रिय होने चाहिए और इन्हें जिन तक पहुचाना है उनमे से सबसे कम बुद्धिमान व्यक्ति के भी समझ में आने चाहिए।
  • जो कोई भी आकाश को हरा और मैदान को नीला देखता या पेंट करता है उसे मार देना चाहिए।
  • आश्चर्य, भय, तोड़-फोड़, हत्या के ज़रिये दुश्मन को अन्दर से हतोत्साहित कर दो.यह भविष्य का युद्ध है।
  • महान असत्यवादी महान जादूगर भी होते हैं।
  • कुशल और निरंतर प्रचार के ज़रिये, कोई लोगों को स्वर्ग भी नर्क की तरह दिखाया जा सकता है या एक बिलकुल मनहूस जीवन को स्वर्ग की तरह दिखाया जा सकता है।
  • कोई भी गठबंधन जिसका उद्देश्य युद्ध शुरू करना नहीं है वो मूर्खतापूर्ण और बेकार है।
  • जर्मनी या तो एक विश्व-शक्ति होगा या फिर होगा ही नहीं।
  • केवल वही, जो युवाओं का मालिक होता है, भविष्य में लाभ उठता है।
  • एक ईसाई होने के नाते मुझे खुद को ठगे जाने से बचाने का कोई कर्तव्य नहीं है, लेकिन सत्य और न्याय के लिए लड़ने का मेरा कर्तव्य है।
  • सभी महान आन्दोलन लोक्रप्रिय आन्दोलन होते हैं। वे मानवीय जूनून और भावनाओं का विस्फोट होते हैं, जो कि विनाश की देवी या लोगों के बीच बोले गए शब्दों की मशाल के द्वारा क्रियान्वित किये जाते हैं।

  • विवेक एक यहूदी अविष्कार है।
  • ज़िंदगी कभी भी कमज़ोरी को माफ नहीं करती।
  • जीत के साथ तो कोई भी खुश हो सकता है। शक्तिशाली केवल वही है जो हार को सह ले।
  • दूसरे लोग क्या सोचते हैं, यह सोचकर, वह करना कभी ना छोड़े, जो करना आपको बेहद पसंद है।
  • अगर आज़ादी हथियारों द्वारा भी नहीं मिलती, तब हमें उसे दृढ़ संकल्प द्वारा लेना होगा।
  • कोई भी व्यक्ति अनियमित ढंग से रह कर ही किसी वस्तु का निवारण निकाल सकता है।
  • और कुछ क्षेत्रों में ईमानदारी को मूर्खता की तरह देखा जाता है।
  • मैं केवल उसके लिए लड़ सकता हूं जिसे मैं प्यार करता हूं। मैं केवल उसे प्यार कर सकरा हूँ जिसकी मैं इज्जत करता हूं, और अंत में मैं केवल उसकी ही इज़्ज़त कर सकता हूं जिसके बारे में मुझे जानकारी हो।
  • अगर आप जीत जाते हैं तो आपको कुछ भी समझाने की जरूरत नहीं है, और अगर आप हार जाते हैं तो आपको वहां नहीं होना चाहिए।
  • एक रचनात्मक और ऊर्जावान दिमाग केवल उसी व्यक्ति में पाया जा सकता है जो कि खुद रचनात्मक और ऊर्जावान है।
  • किसी भी फैसले को लेने से पहले हजार बार सोचें लेकिन कोई भी फैसला लेने के बाद कभी पीछे मुड़कर ना देखें, भले ही आपको हजारों परेशानियों का सामना करना पड़े!!।
  • जीतने वाले से कभी भी पूछा नहीं जाएगा, अगर वो सच बोलने लगा तो।
  • मैं अपने पिता की इज्जत करता हूं, लेकिन मैं अपनी माता से प्रेम करता हूं।
  • मेरे जनरल किसी बैल की तरह सीमा पर खड़े होकर, युद्ध युद्ध युद्ध चिल्ला रहे थे, लेकिन अब क्या हुआ? मैं अपनी आक्रामक कूटनीतिक से आगे बढ़ा तो जनरल्स ने ही मुझे रोकने की कोशिश की। यह एक गलत स्थिति है।
  • सफल होने के लिए सबसे पहला आवश्यक तत्व है लगातार हिंसा का रोजगार।
  • वह व्यक्ति जिसे इतिहास की जरा भी समझ नहीं है, वह एक बहरे और अंधे जैसा है।
  • इतिहास पढ़ने का अर्थ है ऐसी शक्तियों को समझना और ढूंढना जिनके कारण वह सब हुआ जो भी कुछ हम आज देखते हैं। लगातार पढ़ने का गुण सही चीजों को याद रखने और बुरी चीजों को भूल जाने में काफी ज़्यादा सहायक है।
  • पड़ने और खोज करते रहने से हम यह जान पाते हैं कि कौन सी बातें याद रखने लायक हैं और कौन सी बातें हैं जो याद रखने लायक नहीं हैं।
  • जब व्यवस्था का खात्मा होता है, तब युद्ध शुरू होता है।
  • बड़े देशों की यही आदत है और शक्ति है कि जो उनकी नकल करने से डरता है, वे उसे परेशान करते हैं और उन्हे डराते हैं।
  • शब्दों द्वारा ऐसी जगहों पर जाने के रास्ते बनाए जा सकते हैं जहां आप कभी नहीं गए।
  • हमारा सम्पूर्ण विश्व भगवान और शैतानों द्वारा मिलकर बना है।
  • इंसानियत, मूर्खता और कायरता की निशानी है।
  • पढ़कर आप किसी भी पाठ का अन्त नहीं करते, अपितु उसके बिना होने वाले अन्त का अन्त करते हैं।
  • जब आपके पास अपने लोगों के लिए शर्मिंदा होने जैसा कुछ ना हो तब उन पर गर्व किजिए।
  • हर क्षेत्र में, प्रकृति से बड़ा निर्देशक शायद ही कोई है।
  • जो अकेले, युवाओं के समूह को चला लेता है, वह भविष्य कमा लेता है।
  • ताकतवर व्यक्ति को हमेशा कमजोर व्यक्ति पर हावी रहना चाहिए, ना कि उसके साथ दोस्ती करनी चाहिए, और अगर वह ऐसा करता है तो उसकी ताकत का बलिदान होगा। केवल वही व्यक्ति इस नियम को घृणा की नजर से देखा सकता है, क्यूंकि वह छोटी स्पीच सोच का व्यक्ति है। अगर ऐसा है तो क्यूं इस नियम के कारण, दुनिया विकास कर रही है।
  • सारे महान आंदोलन, प्रसिद्ध आंदोलन हैं। वे सभी आंदोलन लोगों की भावनाओं और उम्मीदों के ज्वालामुखी हैं, उन सभी देवताओं के खिलाफ जिन्होने उनके साथ गलत किया है।
  • मुझे लगता है कि मेरा नेतृत्व वैसा ही है जैसा सर्व शक्तिमान चाहते हैं।
  • किसी भी राजनेता को बाथ शूट में कभी फोटो नहीं खींचवानी चाहिए।
  • ताकतवर व्यक्ति हमेशा अकेला होता है।
  • मैं एक ऐसे राज्य की कल्पना करता हूं जहां हर व्यक्ति यह जानता होगा कि वह जीता और मरता है केवल मानवीय स्पिसीज के संरक्षण के लिए।।
  • इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप कितना बड़ा झूट बोल रहे हैं, अगर आप इसे लगातार बोलेंगे तो इस पर यकीन कर लिया जाएगा।
  • हमारा मकसद होना चाहिए कि हम सामंजस्य बिठाकर, अपनी जनसंख्या को अपनी सीमा के अंदर रखें।
  • मैं केवल उस चीज के लिए लड़ सकता हूं, जिसे मैं प्यार करता हूं, और केवल उस चीज को प्यार कर सकता हूं, जिसकी मैं इज्जत करता हूं, और केवल उस चीज की इज्जत कर सकता हूं जिसके बारे में मैं थोड़ा बहुत ही सही, मगर जानता हूँ।
  • परेशानियों के बिना जीतना केवल जीत है, लेकिन परेशानियों के साथ जितना इतिहास बन जाता है।
  • आधारभूत तरीके से राष्टीय समाजवाद और मार्क्सवाद एक ही चीजें हैं।
  • किसी भी देश को जीतने के लिए, उसके नागरिकों को निहत्था कर दो।
  • एक महान व्यक्ति के चुनाव द्वारा खोजे जाने से, एक सुई के छेद से एक ऊंट को गुजरते हुए देखना ज़्यादा आसान है।
  • मरते समय तुम्हारे अकाउंट में जो अतिरिक्त धन होता है, वह अतिरिक्त और गैर जरूरी कार्य है जो शायद तुम्हें नहीं करना चाहिए था, लेकिन तुमने किया।
  • इस दुनिया में बुद्धिमान लोगों द्वारा किया गया कोई भी रचनात्मक कार्य, क्या बड़े समूह द्वारा नकारा नहीं गया है?।
  • चालाकी से और लगातार फैलाए गए प्रोपेगेंडा के कारण, लोग स्वर्ग को भी नर्क मानने लगेंगे, और इसी तरह अगर इसके उलट चाहें तो लोग बुरे से बुरे हालातों को भी स्वर्ग समझेंगे।
  • जर्मन युवाओं, यह कभी मत भूलना की तुम जर्मन हो और छोटी बच्ची तुम यह याद रखना की एक दिन तुम जर्मन माँ होगी।
  • अपने युवापन की शुरुआत से ही मैं किताबें पढ़ने में खास दिलचस्पी रखता था, और मैं भाग्यशाली रहा कि मेरी अच्छी याददाश्त ने इन सबमें मेरा भरपूर साथ दिया।
  • जब सेना अपनी शक्तियों के आकलन में ही छह महीने लगा दे और दुश्मन पर हमला ना करे, तो यह जान लीजिए कि यह देश वासियों के लिए खतरा है।
  • बुद्धिमान लोगों के नेताओं के पास अलग अलग विद्रोहियों को खड़ा करने की क्षमता होनी चाहिए, आखिरकार वे सब एक ही वर्ग से जो आते हैं।
  • एक औसत व्यक्ति को मृत्यु से सबसे ज़्यादा खतरा रहता है, लेकिन वह इसके बारे में शायद ही कभी सोचता हो। वह कभी कभार इस बारे में सोचता भी है लेकिन सोच की उस हद तक नहीं। वह अंधों की तरह दिन ब दिन जीता चला जाता है। दूसरे लोग उसे सावधानी से देखता हैं, वे चौंका जाते हैं उसकी आँखें देखकर, कितनी शान्त और मधुर हैं।
  • खुद की तुलना कभी किसी और के साथ ना करें, यदि आप ऐसा करते हैं तो आप अपनी बेज्त्ती कर रहे हैं।
  • अगर तुम्हें सूर्य की तरह चमकना है तो पहले सूर्य की तरह जलना सीखिए।
  • मेरी आत्मा कब्र में से निकल कर आयेगी और लोग देखेंगे कि मैं सही था।

बाहरी कडियाँ[सम्पादन]

w
विकिपीडिया पर संबंधित पृष्ठ :